35 Pulwama Attack Shayari

Pulwama Attack Shayari

1- मत दो तवज्जु ये झूठे फ़िल्मी हीरो को, बनाओ अपना हीरो पुलवामा में शहीद हुए वीरों को।

Pulwama Attack Emotional Shayari

2- फ़र्क़ होता है आम लड़को और देश के वीरों में, आम लड़के आशिक़ी में लड़की पर जान छिड़कते है और वीर जवान अपनी जान न्योछावर कर देते हैं।

Pulwama Attack Shayari

3- योद्धा वो इस देश के थे, जिन्होंने दुश्मनों को धुल चटाई और इसी धुल में मिल गए।

Pulwama Attack Shayari

4- हम लड़ते रहे राम-रहीम को लेकर, बात कर ही ना सके पुलवामा के शहीद को लेकर।

Pulwama Attack Shayari

5- इज़्ज़त दो जवान को शहीद होने से पहले, पा लो सुख उनसे मिलने का उन्हें खोने से पहले।

Pulwama Attack Shayari

6- ना फ़िल्मी हीरो को ना ही अमीरों को, आओ याद करे दो घडी पुलवामा में हुए शहीद वीरों को।

Pulwama Attack Shayari

7- अब इससे कठिन भी और क्या जतन होता है, एक जवान के लिए उसके परिवार से भी पहले उसका वतन होता है।

Pulwama Attack Shayari

8- शहीदों की शहादत का जो मज़ाक बना रहे हैं, और कुछ नहीं वो खुद अपनी औकात बता रहे हैं।

Pulwama Attack Shayari

9- राजनीती की पार्टियां चाहे जितना बवाल उठाए गुज़ारिश है की कम से कम फौजी के शौर्य पर ना सवाल उठाएं।

10- प्रेम दिवस एक ऐसा भी आया, जब कई जवान कुर्बान हो गए देश की आशिक़ी में।

11- बहुत आसान है प्रेमिका की हर छोटी बात मान लेना मगर आसान नहीं होता देश के लिए जान वार देना।

12- हर वीर जो अपनी ज़िन्दगी को देश के नाम करता है, हर देशभक्त उसे दिल से सलाम करता है।

13- कई परिवारों की खुशियों के गायब नामो-निशाँ हो गए , वो जवान लाजवाब है जो देश के लिए कुर्बान हो गए।

14- तन मन बदन को, सब दे दिया वतन को “जय हिन्द”।

Pulwama Attack Shayari

15- कैसे दूँ मैं गुलाबी गुलाब मेहबूबा को, ये दिन बहुत काला है मेरे लिए।

16- बड़ा दिलदार है देश का जवान मेरा, हर देश के जवान को सलाम मेरा।

17- जिनकी वजह से नसीब होती है नींद सुकून की, आज वो शहीद मौत की नींद सो गए।

18- जवान पत्थर पर पड़ी लकीर होता है जनाब, उसका शरीर मिटाया जा सकता है वजूद नहीं।

19- पहनकर देश की वर्दी चले गए, हम कई सालों तक चैन से जियें इसीलिए कई जवान बड़ी जल्दी चले गए।

Pulwama Attack Shayari

20- हर देशभक्त की आँखों को भीगा कर चले गए, वो शहीद क्या खूब देशभक्ति का पाठ सिखाकर चले गए।

Pulwama Attack Shayari 14 February 2023

21- तुम आशिक़ मानते हो खुद को गुलाब देकर, देश की मोहोब्बत में चले गए कई जवान जान देकर।

22- माना की अब बहार नज़र नहीं आते वो शहीद हुए जवान, मगर वो हर देशभक्त के आज भी दिल में रहते हैं।

23- रहने को सदा शहर में आता नहीं कोई, तुम जैसे गए वैसे भी क्या जाता है कोई।

24- वो जो थे इस कलियुग के श्रवण, धरती माता के लिए जो शहीद हो गए उन जवानों को नमन।

Pulwama Attack Shayari

25- हर देशभक्त की आँखें शर्मिंदा हो रही है, आज देश की फ़ौज की देश के नेताओं द्वारा झूठी निंदा हो रही है।

26-मैं तो नहीं उन फौजियों की तरह देश के लिए इतना बड़ा जतन करता हूँ, मगर बस इतना करता हूँ की हर फौजी को नमन करता हूँ।

27- सच्चे सैनिकों की शहादत में, आओ हम भी लाएं देशभक्ति को अपनी आदत में।

28- पानी आँखों से निकलता ही जा रहा है, हर पत्थर दिल आज पिघलता ही जा रहा है।

29- ये दिन हर देश के चाहितों के नाम है, ये दिन प्रेम दिवस नहीं देश के शहीदों के नाम है।

30- सुना नहीं कभी आँख मूंदकर दुश्मन की धमकी को, ढेर किया है देश के जवानों ने नाजाने कितने की आतंकियों को।

Pulwama Attack Shayari

31- दिल में देश और आँखों में जोश भरकर, करता है जवान देश की सुरक्षा दुश्मनों से रोज़ लड़कर।

32- बस एक दिन की देशभक्ति की सोशल मीडिया पर ना बात करो, सच्चे देशभक्त हो तो हर रोज़ देश के जवानों को याद करो ।

33- बस इसी वजह से देश के हर घर में शान्ति और रौनक है, क्यूंकि सरहदों पर जाकर खड़ा सैनिक है।

34- जगाओ अपने सोए हुए ज़मीरों को, याद करो दिल से पुलवामा अटैक के शहीदों को।

35- दुश्मन को एक भी ना छुपने दिया, खुद मिट गए वो मगर देश को ना झुकने दिया।

About The Author

Reply